जयपुर. ।

केंद्र सरकार की क्षेत्रीय हवाई संपर्क 'उड़ान' योजना के तहत अब जल्द ही जयपुर-जैसलमेर, दिल्ली-बीकानेर और जयपुर-आगरा मार्गों पर हवाई यात्राएं शुरू की जाएंगी।



इसके लिए क्षेत्रीय मार्गों पर हवाई संपर्क (आरसीएस) बढ़ाने की भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना 'उड़ान' के तहत केंद्र सरकार और राजस्थान सरकार के बीच एक समझौता पत्र पर हस्ताक्षर हुए। राजस्थान के अन्य शहरों को जोडऩे वाली विमान सेवाओं को भी जल्द शुरू किया जा सकता है।



Read: जयपुर से अब चंडीगढ़, लखनऊ , इंदौर के लिए भी सीधी फ्लाइट, 3 विमानों की सेवा शुरू होने के साथ हो जाएंगी 51 घरेलू उड़ानें

नई दिल्ली के राजीव गांधी भवन में सोमवार को केंद्रीय नागर विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा की उपस्थिति में राजस्थान के नागरिक उड्डयन विभाग के प्रमुख सचिव पवन गोयल एवं निदेशक केसरी सिंह व केंद्रीय नागरिक उड्डयन सचिव आर.एन. चौबे, चेयरमैन एएआई गुरुप्रसाद महापात्रा के बीच रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम के अंतर्गत समझौता पत्र पर हस्ताक्षर हुए।



स्टेट हैंगर के पास बनेगा वीआईपी टर्मिनल

इस दौरान हुई बैठक में तय किया गया कि जयपुर में स्टेट हैंगर के पास वीआईपी टर्मिनल बनाने के लिए भारतीय हवाई अड्डा प्राधिकरण की ओर से जमीन आवंटित की जाएगी। इसके लिए भारतीय विमान प्राधिकरण एवं राजस्थान सरकार की टीम संयुक्त रूप से दौरा कर फैसला करेगी।



 हवाई अड्डों के पास सटे क्षेत्रों में ऊंची इमारतों के निर्माण के संबंध में चर्चा के दौरान केंद्रीय राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से सभी राज्य सरकारों से मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) के अंतर्गत सुझाव लेकर इस संबंध में निर्णय लिया जाएगा।



Read: इस मामले में जयपुर एयरपोर्ट बना विश्व में नं—1, देखिए यहां 80 देशों के 320 हवाई अड्डों के बीच मारी बाजी