जोधपुर ।

महामंदिर थानान्तर्गत राजीव नगर ए स्थित मकान में बने टांके में गुरुवार सुबह एक युवती का शव मिला। परिजन का कहना है कि पांव स्लिप होने से युवती टांके में डूबी है। उधर, मण्डोर थानान्तर्गत अशोक कॉलोनी में तेजाब पीने से एक युवक की मृत्यु हो गई।


अपने मूक-बधिर बेटे का विकलांग सर्टिफिकेट बनवाने को पेट पाले या हक मांगे ये विधवा मां


एएसआई शेराराम के अनुसार राजीव नगर ए निवासी गणपतलाल ब्राह्मण सरकारी विद्यालय में व्याख्याता हैं। उनकी पत्नी भी सरकारी कर्मचारी हैं। दोनों सुबह नौकरी पर चले गए। कुछ देर बाद पड़ोसियों ने गणपतलाल को फोन कर अवगत कराया कि उनकी छोटी पुत्री दीपिका (24) का शव मकान में बने टांके में मिला है। दम्पती तुरन्त घर पहुंचे।


बैटरी शोरूम-एफएम ऑफिस में लगी आग, धमाकों के साथ फूटे कांच


पुलिस को भी वहां बुलाया गया। बाद में दीपिका का शव बाहर निकालकर महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी भिजवाया गया, जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंपा गया। मृतका के पिता की शिकायत पर मर्ग दर्ज किया गया है। उनका कहना है कि दीपिका टांके से पानी भर रही थी। तब उसका पांव स्लिप हो गया और वह टांके में जा गिरी। तैरना न आने से पानी में डूब गई।


घर में भूत का डर दिखा एेंठे 25 लाख रुपए


पुलिस का कहना है कि मृतका ने अंग्रेजी लिटरेचर में ग्रेजुएशन व बीएड कर रखी थी। वह आरएएस के साथ ही आईएएस परीक्षा की तैयारी कर रही थी। वह तीन बहनों में सबसे छोटी थी।


अपने ही गुरु की हत्या कर दी इस कलियुगी शिष्य ने


नशे में शराब की जगह पी लिया तेजाब


मण्डोर थाने के उप निरीक्षक उमेश बिश्नोई ने बताया कि अशोक कॉलोनी निवासी सुरेश (28) पुत्र श्रवण वाल्मिकि ने सुबह घर में ही नशे की हालत में शराब की जगह तेजाब पी लिया। तबीयत खराब होने पर परिजन उसे महात्मा गांधी अस्पताल ले गए, जहां इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम करवा शव परिजन को सौंपा