परबतसर. ।

राष्ट्रीय जनाधिकार मंच शाखा परबतसर के तत्वावधान में डीडवाना में समाजवर्ग के लोगो द्वारा राष्ट्रविरोधी नारे लगाने वाले राष्ट्र विरोधियों के खिलाफ कार्यवाही को लेकर सोमवार को कस्बे में से जुलूस निकालते हुए उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह चांदावत को ज्ञापन सौंपा।
ज्ञापन में बताया गया कि डीडवाना शहर मे गत सप्ताह 2 जून को पुलिस कर्मियो की मोजूदगी में पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाए। जो राष्ट्र विरोधी अपराध है और उन पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा बनता है। इस घटनाक्रम की एक वीडियो सोशल मीडिया पर शुक्रवार को वायरल हुई। जिसमें पुलिसकर्मियो की मौजूदगी में स्पष्ट रूप से पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाए जाने की आवाज सुनाई दे रही थी।

इस प्रकरण में अगर आरोपित तीन दिन की अवधि में गिरफ्तार नही किए जाते है तो विहिप, आरएसएस, एवं बजरंगदल के उच्च अधिकारियों के निर्देश के बाद कडा कदम उठाना पड़ेगा। जिसमें डीडवाना ही नहीं बल्कि राजस्थान बंद करने का निर्णय भी लिया जा सकता है। इस मामले में घटना के दौरान जो पुलिस कर्मी उपस्थित थे। उनके खिलाफ भी कार्यवाही की जाए।
इससे पूर्व राष्ट्रीय जनाधिकार मंच के कार्यकर्ता अम्बेडक़र सर्किल पर एकत्रित हुए। जंहा पर नवनील गौड़ ने संबोधित किया। तत्पश्चात एक जुलूस के रूप में अम्बेडक़र सर्किल से बस स्टेण्ड, जयनारायण व्यास चौक, गांधी चौक होते हुए उपखण्ड अधिकारी कार्यालय पहुंचे।

इस मौके पर नवनील गौड़, सीताराम बागड़ा, अशोक वर्मा, गिरीराज पारीक, विरेन्द्रसिंह मामड़ोली, जितेन्द्र वर्मा, राजेश जोशी, नीरज व्यास, सिन्टू मामड़ोली, सौरभ पारीक, हितेष व्यास सहित कई लोग उपस्थित थे।

वीडियो में देखिए, शिकार के बाद खेजड़ी पर लटका दिए हरिण



जल्द हो गिरफ्तारी
नावां शहर. शहर के राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की ओर से प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन देकर डीडवाना में समाज वर्ग के लोगों की ओर से देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई।

राष्ट्रीय स्वयं संघ व भारतीय जनता पार्टी की ओर से उपखण्ड अधिकारी सैयद मुकर्रम शाह को ज्ञापन देकर बताया गया कि डीडवाना शहर में २ जून को हुए घटनाक्रम के विरोध में ज्ञापन दिया गया। समाज के लोग जब ज्ञापन देने जा रहे थे तो उस भीड़ में कुछ असामाजिक तत्व भी थे जिन्होंने पाकिस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाए जो कि राष्ट्र विरोधी अपराध है तथा उन लोगों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा लगाना चाहिए। सम्पूर्ण घटनाक्रम का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ जिसमें पुलिस कर्मियों की मौजूदगी में यह अपराध किया गया है। इस अवसर पर संघ के सदस्य रमेश बियाणी व गोपाल शर्मा ने बताया कि डीडवाना शहर सौहार्दपूर्ण वातारण के लिए मिसाल बना हुआ है। शहर में नागौरिया मठ के वैकुंठवासी महाराज की ओर से शहर स्मरण का आयोजन कर दोनों धर्म के लोगों को एक साथ भोजन करवाने की मिसाल भी दी जाती है। समस्त लोगों ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री से सम्पूर्ण घटनाक्रम की जांच करवाकर अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के मण्डल अध्यक्ष ओमप्रकाश गौड़, भारत स्वाभिमान ट्रस्ट के अध्यक्ष प्रीतम जोशी, अशोक पारीक, पार्षद कमल कुमावत, नरेश ओझा सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।