सीकर। ।

दादिया थाना इलाके के पिपराली के पास स्थित देवलानाडा में रविवार को कन्हैयालाल गुर्जर की हत्या उसकी पत्नी व साले ने योजनाबद्ध तरीके से की थी। पुलिस की पूछताछ में दोनों ने अपराध कबूल कर लिया है। पूछताछ में सामने आया है कि उसकी पत्नी रेणू व कुलदीप सीकर से हत्या की योजना बनाकर ही देवलानाडा गए थे। जब वह गांव पहुंचे तो कन्हैयालाल एक दुकान पर बैठा शराब पी रहा था। पत्नी उसे वहां से बुलाकर लाई। इसके बाद उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। दोनों आरोपित अभी पुलिस हिरासत में हैं। पुलिस उनसे पूछताछ में जुटी है।


----------------------------------

हर जगह चोट के निशान


एएसआई रामावतार ने बताया कि कन्हैयालाल की पत्नी व साले ने बांधकर पिटाई की। इससे उसके शरीर पर दो दर्जन से ज्यादा चोट के निशान है। मारपीट के बाद उसे बांध कर वहीं पटक दिया गया। आशंका है कि अधिक खून निकलने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मौत के बाद भी पत्नी व साले घर में सबूत मिटाने का प्रयास किया। इसके लिए घर का आंगन भी पानी से साफ किया, लेकिन खून पूरी तरह से साफ नहीं हो पाया। वहां से एफएसएल टीम ने नमूने उठा लिए हैं।

-----------------------------------


शराब बनी झगड़े का कारण

कन्हैयालाल व उसकी पत्नी के बीच झगड़े का कारण शराब थी। कन्हैयालाल गांव में मकान बनाने के बाद आदतन शराबी हो गया। पति-पत्नी के बीच इस बात को लेकर आए दिन झगड़ा और मारपीट होती थी। यह शराब ही कन्हैयालाल की मौत का कारण बनी। कन्हैयालाल के दो बच्चे हैं, जिनमें बेटा तो महज तीन वर्ष का है।