लंदन। ।

दुनियाभर की निगाहें जब भारत और पाकिस्तान के बीच आईसीसी चैंपियंस ट्राफी के खिताबी मुकाबले पर टिकी हुई थीं तो लंदन में दूसरी ओर भारतीय हॉकी टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान को एफआईएच वर्ल्ड लीग हॉकी सेमीफाइनल के पूल बी मैच में 7-1 से रौंदकर जीत की हैट्रिक पूरी कर ली। 



भारतीय टीम इस जीत के साथ पूल बी में नौ अंकों के साथ शीर्ष पर पहुंच गई है। भारत ने इससे पहले स्काटलैंड को 4-1 से और कनाडा को 3-0 से पीटा था। पाकिस्तानी टीम इससे पहले हॉलैंड से 0-4 से और कनाडा से 0-6 से करारी शिकस्त खा चुकी थी। 



पाकिस्तान को इस तरह लगातार दूसरे मैच में बड़ी हार का सामना करना पड़ा। भारत की जीत में ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत सिंह, तलङ्क्षवदर सिंह और आकाशदीप सिंह ने दो-दो गोल किए जबकि प्रदीप मोर ने एक अन्य गोल किया। पाकिस्तान का एकमात्र गोल मोहम्मद उमर ने किया। 



भारत और पाकिस्तान के बीच हॉकी के इस मुकाबले से ज्यादा लोगों की निगाहें लंदन के ओवल मैदान पर दोनों देशों की क्रिकेट टीमों के मैच पर लगी हुई थीं। मनप्रीत सिंह की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने गजब का प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान को शर्मनाक शिकस्त का स्वाद चखा दिया। भारत ने पहले हाफ में ही 3-0 की बढ़त बना ली थी जिसके बाद पाकिस्तान के पास वापसी करने का कोई मौका नहीं रह गया था। 



टीम इंडिया का पहला गोल ड्रैग फ्लिकर हरमनप्रीत ने 13वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर किया। उनके शानदार शॉट ने पाकिस्तान के गोलकीपर अमजद अली को छका दिया। हरमनप्रीत का टूर्नामेंट में यह दूसरा गोल था। दूसरे क्वार्टर में 21वें मिनट में तलङ्क्षवदर ने बाएं छोर से सरदार सिंह के शानदार प्रयास पर गोल किए। 



एसवी सुनील ने गेंद को डिफ्लेक्ट किया और तलविंदर ने अंतिम क्षणों में गेंद को गोल में पहुंचा दिया। तलविंदर ने 24वें मिनट में एक और शानदार गोल कर भारत को 3-0 से आगे कर दिया। दूसरे हाफ के शुरू होते ही हरमनप्रीत ने भारत के चौथे पेनल्टी कार्नर पर पाकिस्तान के गोल का तख्ता खड़का दिया। भारत अब 4-0 से आगे हो गया है। आकाशदीप सिंह ने 47वें मिनट में भारत का पांचवां गोल दाग दिया। 



आकाशदीप ने गेंद संभालने के बाद अपने लिए जगह बनाई और उनके शॉट को रोकने का गोलकीपर अमजद अली के पास कोई मौका नहीं था। आकाश का टूर्नामेंट में यह तीसरा गोल था। उन्होंने अब तक तीनों ही मैचों में एक एक गोल किया है। रही सही कसर प्रदीप मोर ने 49वें मिनट में एक मुश्किल कोण से खूबसूरत गोल कर पूरी कर दी। 



भारत अब 6-0 से आगे हो चुका था। छह गोल खाने के बाद पाकिस्तान ने अपना गोलकीपर बदल दिया। अमजद अली बाहर चले गये और हजर अब्बास को उनकी जगह उतारा गया। हजर के आने के बाद पाकिस्तान को उसका पहला गोल मिल गया। मोहम्मद उमर ने 57वें मिनट में मैदानी गोल से हार का अंतर कम किया। 



लेकिन 59वें मिनट आकाशदीप ने अपना दूसरा गोल दागते हुए भारत को 7-1 सेे जीत दिला दी। आकाशदीप का टूर्नामेंट में यह चौथा गोल था। आकाश अब टूर्नामेंट में सर्वाधिक गोल के मामले में अर्जेंटीना के गोंजालो पिलेट के बाद दूसरे नंबर पर आ गये हैं। गोंजालो के छह गोल हैं। भारत का अगला मुकाबला 20 जून को हॉलैंड से होगा जबकि इससे एक दिन पहले 19 जून को पाकिस्तान की टीम स्काटलैंड से भिड़ेगी।