रायबरेली। ।

 कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को रायबरेली में चुनावी रैली की। इस रैली में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि यूपीए ने भी कर्ज माफ किया था तब तो उत्तर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार नहीं थी। 



राहुल गांधी ने कहा कि हमें सिर्फ तीन चीजें चाहिए, किसानों को कर्ज माफ, बिजली बिल माफ और उनके लिए उचित दाम। मोदी जी के ऑफिस में गया, उनसे मैंने कहा कि मोदी जी आप यूपी के दो करोड़ किसानों का कर्ज माफ कीजिए। उन्होंने कहा कि उस समय मोदी जी के मुख से एक शब्द नहीं निकला, लेकिन जब चुनाव आते हैं तो उन्हें किसानों की याद आती है।



राहुल ने पीएम पर साधा निशाना

राहुल ने पीएम मोदी के उस बयान पर भी हमला बोला जिसमें उन्होंने खुद को यूपी का गोद लिया हुआ बेटा बताया था। उन्होंने कहा कि रिश्ते बोलने से नहीं निभाने से बनते हैं। उन्होंने कहा कि पीएम ने मां गंगा से किए वादे पूरे नहीं किए, वह वादे करते हैं लेकिन निभाते नहीं हैं। राहुल गांधी ने पूछा कि पीएम ने अच्छे दिन के वादे किए थे, कहां हैं अच्छे दिन?



नोटबंदी को लेकर बोला हमला

राहुल गांधी ने नोटबंदी को लेकर भी प्रधानमंत्री पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि नोटबंदी ने लोगों को लाइनों में खड़ा कर दिया, लेकिन लाइनों में कोई अमीर नहीं दिखा। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि हम गरीबों, किसानों को पैसे देंगे, अमीरों को नहीं। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी माल्या जैसे चोरों को पैसा देते हैं।



कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पीएम मोदी पर रायबरेली के युवाओं से रोजगार छीनने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने रायबरेली से फूड पार्क छीनकर युवाओं से रोजगार छीन लिया। राहुल गांधी ने कहा कि अगर पीएम ने रायबरेली को फूड पार्क दिया होता तो रायबरेली में किसानों के उगाए पिपरमिंट को अमरीकी राष्ट्रपति खोलकर खाता तो उसमें लिखा होता मेड इन रायबरेली। 


उन्होंने आपके युवाओं से रोजगार छीना। आपसे मेड इन रायबरेली छीना। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने आगे कहा कि अगर अखिलेश यादव और कांग्रेस की सरकार आएगी तो लखनऊ का आम, इलाहाबाद का अमरूद और अमेठी के टमाटर का फूड पार्क बनाएंगे।