उदयपुर ।

उदयपुर नाई थाना क्षेत्र के कमली गांव में दस माह पूर्व पुत्री की हत्या के बाद सदमे से पगलाई मां ने रविवार को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। 

थानाधिकारी नाथूसिंह ने बताया कि कमली निवासी लीलाबाई (45) पत्नी मगनीराम गमेती की पुत्री तुलसी की दस माह पूर्व उसके दामाद में गला दबाकर हत्या कर दी थी। 



READ MORE: अब बीज खरीद में किसानों को बड़ी राहत : आंदोलन से पहले ही किसानों को रजामंद करने व मनाने में जुटी सरकार




इकलौती पुत्री की हत्या के बाद से सदमे में आई लीलाबाई की मानसिक स्थिति खराब हो गई थी जिसका अस्पताल में उपचार चल रहा था। सुबह उसने घर पर ही फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को उतारकर एमबी. चिकित्सालय में रखवाया। पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया गया। 


कमली निवासी लीला की पुत्री तुलसी गमेती (28) की 2 अगस्त 2016 को उसके दामाद सोहन ने गला दबाकर हत्या कर दी थी। वारदात के बाद से वह न्यायिक अभिरक्षा में है। पुलिस ने बताया कि तुलसी ने पूर्व में शादीशुदा चार बच्चों के पिता सोहन गमेती से प्रेम विवाह रचाया था। वह दो पत्नियों व बच्चों के साथ बुझड़ा गांव में किराए के मकान में रहता था। 



READ MORE: Father's Day Special: पिता के त्याग की अनोखी कहानी, बेटे को दिया नया जन्म, आज संयुक्त परिवार में जी रहे है खुशहाल जिंदगी




सोहन से तुलसी के दो वर्ष का पुत्र भरत है। पति के लड़ाई-झगड़े से परेशान तुलसी घटना से कुछ दिनों पहले अपने पीहर कमली गांव आ गई थी। घटना वाले दिन सोहन कमली गांव पहुंचा और रात को सोते समय गला दबाकर हत्याकर भाग निकला था।